Photo Gallery

 Audio Gallery

   States / Prants

 Branch PSTs

  Finance

 Some Useful Articles

   BVP in the News

   States' Publications

 News from the Branches

 Feedback 
 Website Contents 

 

 

 



Be a partner in development of the Nation

Bharat Vikas Parishad is striving for the development of the Nation. You can also participate in this effort  by (a) becoming a member of Bharat Vikas Parishad, (b) enrolling yourself as a “Vikas Ratna” or “Vikas Mitra”  and (c)  donating for various sewa &  sanskar projects.

Donations to Bharat Vikas Parishad are eligible for income tax exemption under section 80-G of Income Tax Act. Donations may kindly be sent by cheque / demand draft in favour of Bharat Vikas Parishad, Bharat Vikas Bhawan, BD Block, Behind Power House, Pitampura, Delhi-110034.


 
 

.
 

 


The Project   

  Songs from Rashtriya Geetika

   Project Guidelines  

News from the States

 

प्रान्तों से समाचार


 Tenth All India National Sanskrit Group Song Competition: 2014-15 (Mumbai)
 

Tenth All India National Sanskrit Group Song Competition was held at Mumbai on 15-16 November, 2014. The event was hosted by Maharashtra I Prant.  A record number of 45 teams participated in National Sanskrit Group Song Competition -  both in Sanskrit Song and Folk Song competitions - as indicated below:

In Sanskrit Song, the First, Second and Third Fourth places were won by Haryana North, Rajasthan Central, Maharashtra 2 and  Mahakaushal respectively. Similarly, in Folk Song competition, the First, Second, Third and Fourth places were won by Gujarat Central, Haryana North, Punjab South and Karnataka North Prants respectively.

 

         

   
       

Winner Team of Sanskrit Song - Haryana

   

Winner Team of Folk Song - Gujarat

       
 

(Click on the pictures for the larger image)

 

Click here for link to Photo Album (102 photographs) on the Facebook

  दसवें राष्ट्रीय संस्कृत समूहगान एवं लोकगीत: 2014-15 (मुम्बई)
मुम्बई, महाराष्ट्र-1
: परिषद् की दो दिवसीय दसवें अखिल भारतीय संस्कृत समूगहगान एवं लोकगीत प्रतियोगिता का शुभारम्भ विलेपार्ले के दीनानाथ मंगेशकर हॉल में 15 नवम्बर को किया गया जिसमें सम्पूर्ण देश से परिषद् की 45 टीमों ने भाग लिया।

इस प्रतियोगिता का शुभारम्भ महामंडलेश्वर श्री श्री 1008 स्वामी विश्वेश्वरा नंद जी महाराज के आशीर्वाद से हुआ। इस अवसर पर स्थानीय विधायक पराग अलवानी और राष्ट्रीय अध्यक्ष सीताराम पारीक भी उपस्थित थे। प्रतियोगिता के समापन समारोह (16 नवम्बर) के मुख्य अतिथि महाराष्ट्र के महामहिम राज्यपाल सी. विद्यासागर राव ने अपने उद्बोधन में कहा कि देशभक्ति सहित देववाणी संस्कृत व लोकगीत स्पर्धा के माध्यम से जो कार्य भारत विकास परिषद् कर रही है उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है। श्री राव ने देश के विभिन्न प्रान्तों से आये विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि ये गौरव की बात है कि परिषद् की सम्पूर्ण देश में 1200 से अधिक शाखाएं सामाजिक कार्यों के साथ संस्कार, सेवा और समर्पण की भावना के उद्देश्य को लेकर कार्य कर रही है। प्रान्तीय अध्यक्ष एस.एस.गुप्ता ने कहा कि ज्यादातर संगीत एकल या समूहगान प्रतियोगिता हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम में होती है, ये भारत की एकमात्र ऐसी संस्था है जो युवाओं में संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए इसे संस्कृत में करते हैं।

इस प्रतियोगिता में डी.ए.वी स्कूल, कुरुक्षेत्र (हरियाणा उत्तर) की टीम ने प्रथम, भीलवाड़ा (राजस्थान मध्य) की टीम द्वितीय तथा सतारा (महाराष्ट्र-2) की टीम ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। लोकगीत प्रतियोगिता में गुजरात की टीम ने प्रथम, हरियाणा उत्तर की टीम ने द्वितीय व भटिंडा (पंजाब दक्षिण) की टीम ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। सभी विजेताओं को मुख्य अतिथि महामहिम राज्यपाल ने अपने हाथों से विजय पदक प्रदान किया। मंचासिन अतिथियों श्री अभिनन्दन लोढ़ा (डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर लोढ़ा ग्रुप), शरद सर्राफ (टेक्नोक्राफ्ट इंडस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर) ने देश के अनेक प्रान्तों से आये बच्चों को प्रोत्सहित किया। दर्शकों एवं बच्चों से खचाखच भरे दीनानाथ मंगेशकर हॉल में अपने मधुर व कुशल संचालन से प्रान्तीय महासचिव एल.आर.जाजू ने सभी का आभार व धन्यवाद व्यक्त किया। परिषद् के सभी पदाधिकारीगण एवं कार्यकर्ताओं ने इस समारोह में अपना पूर्ण सहयोग दिया। (Niti: Dec., 2014)

   
   
 

Previous 

 
 
   
 

   

.

                                                                                                                                         top         Home 

 

Copyright©  Bharat Vikas Parishad . All Rights Reserved