Photo Gallery

 Audio Gallery

   States / Prants

 Branch PSTs

  Finance

 Some Useful Articles

   BVP in the News

   States' Publications

 News from the Branches

 Feedback 
 Website Contents 

 

 

 



Be a partner in development of the Nation

Bharat Vikas Parishad is striving for the development of the Nation. You can also participate in this effort  by (a) becoming a member of Bharat Vikas Parishad, (b) enrolling yourself as a “Vikas Ratna” or “Vikas Mitra”  and (c)  donating for various sewa &  sanskar projects.

Donations to Bharat Vikas Parishad are eligible for income tax exemption under section 80-G of Income Tax Act. Donations may kindly be sent by cheque / demand draft in favour of Bharat Vikas Parishad, Bharat Vikas Bhawan, BD Block, Behind Power House, Pitampura, Delhi-110034.


 
 

.
 

 
 

 


 विकलांग सहायता - प्रान्तों से समाचार
                                                                                   

समाचारों में भारत विकास परिषद् >>

देहरादून ग्रेटर, उत्तराखण्ड पश्चिम: 19.03.2013 को जिला जेल देहरादून में स्वामी विवेकानन्द जी के भव्य जीवन के ऊपर गोष्ठी का आयोजन हुआ। प्रमुख वक्ता ‘रामकृष्ण आश्रम’ के अध्यक्ष संत निर्विरोधानन्द जी स्वयं उपस्थित थे। 24 मार्च को हरीवाला रेलवे स्टेशन पर जो शहर से लगभग 12 किलोमीटर ग्रामीण क्षेत्र है, ग्रेटर शाखा ने मुफ्त विकलांग शिविर का आयोजन किया। 298 चश्मंे, 57 कान की मशीनें, 12 बैसाखियाँ, व्हीलचेयर, स्टिक आदि जाँच कर जरूरतमन्द रोगियों को वितरित की गई और आवश्यकतानुसार दवायें भी दी गईं। अध्यक्ष तरुण अग्रवाल, डॉ॰ बसंत कुमार, कु॰ श्वेताराय तलवार, लक्ष्मी अग्रवाल, तनुज गोविल, डॉ॰ रेखा श्रीवास्तव, श्रीमती शमीम खत्री कैम्प स्थल पर उपस्थित रहे।

नगरोटा बागवां कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश पश्चिम: विकलांग पुनर्वास संस्थान पर 28.03.2013 को वार्षिक उत्सव मनाया गया। इसमंे चार विकलांग व्यक्तियों को कृत्रिम अंग प्रदान किए गए। मुख्य अतिथि एस॰डी॰एम॰ कांगड़ा अजीत भारद्वाज ने संस्थान के इस सामाजिक कार्य की सराहना की। उन्होंने संस्थान को व्यक्तिगत व अन्य साधनों से सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया। सदस्य रमेश पुरोहित ने वार्षिक रिपोर्ट पेश की। मुख्य अतिथि के माध्यम से कृत्रिम अंग प्रदान किए गए। मुख्य संयोजक राम चन्द मेहता, अध्यक्ष घनश्याम वर्मा, नगर परिषद् अध्यक्ष हिमाद्री सोनी, तहसीलदार मनीष चौधरी, नायब तहसीलदार अजीत शर्मा भी उपस्थित थे।

(Niti: Jun., 2013)


बोकारो स्टील सिटी, झारखण्ड : 23 दिसम्बर 2012 को आयोजित विकलांग शिविर के प्रथम चरण में जिन निःशक्तों के कृत्रिम अंगों का माप आदि लिया गया था, उन्हें शिविर के द्वितीय चरण में 10 फरवरी 2013 को कृत्रिम अंग प्रदान किए गए। जैन मिलन केन्द्र सेक्टर-2 में कार्यक्रम का उद्घाटन ओ॰एन॰जी॰सी॰ बोकारो के अधिशासी निदेशक अरुण कुमार मिश्रा द्वारा किया गया। शिविर के प्रमुख प्रायोजक बोकारो स्टील प्लान्ट के निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व विभाग के सहायक महाप्रबंधक हरि मोहन झा ने इस सेवा कार्य में अपना बहुमूल्य योगदान दिया। द्वितीय चरण में कुछ विकलांग किसी कारण वश अपने कृत्रिम अंग ग्रहण करने नहीं आ सके थे, उन सभी ने 3 मार्च 2013 को अपने कृत्रिम अंगों को ग्रहण किया। शिविर के तीनों चरणों के सफल आयोजन में विकलांग न्यास पटना से आए विशेषज्ञों सहित शाखाओं के सदस्यों ने बड़ी संख्या में उत्साह पूर्वक योगदान दिया।

सांचोर-जालोर, राजस्थान पश्चिम : स्थायी प्रकल्प विकलांग सहायता योजना द्वारा फरवरी माह में दानदाता जैन महिला मण्डल के आर्थिक सहयोग से कुल 20 विकलांगों को लाभान्वित किया गया। प्राथमिक चिकित्सा ईकाई के माध्यम से फरवरी माह में 1225 रोगियों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण करके निःशुल्क दवाईयाँ उपलब्ध करवाईं गईं। फिजियोथेरेपी सेन्टर में 285 लोगों का ईलाज किया गया। रियायती एम्बुलेंस सेवा द्वारा 2 मरीज व 2 शव को रियायती शुल्क पर गन्तव्य पर पहुँचाया गया।

‘कार्पेट सिटी (भदोही), काशी प्रदेश : शाखा ने अपने विकलांग सहायता योजना के अन्तर्गत श्री राम लक्ष्मी नारायण मारवाड़ी अस्पताल तथा लायन्स क्लब वरुणा के सहयोग से धनवन्तरी अस्पताल में 9 एवं 10 मार्च 2013 को आयोजित निःशुल्क कृत्रिम अंग प्रत्यारोपण शिविर का सफल आयोजन किया गया। 286 विकलांग व्यक्तियों ने पंजीकरण कराया। 244 विकलांग व्यक्ति जाँच हेतु उपस्थित हुए। जाँच उपरान्त 176 व्यक्तियों को ही कृत्रिम अंग उपकरण एवं अन्य सुविधाओं के योग्य पाया गया। उनमें से एक अथवा दोनों कानों से सुनने में लाचार 49 व्यक्तियों को श्रवण-यंत्र तत्काल क्षेत्रीय विधायक श्री जाहिद वेग एवं नगर के अन्य सभ्रान्त व्यक्तियों श्री शाहिद हुसैन, तनवरी सहुसैन, अब्दुल हादी आदि के हाथों उपलब्ध कराया गया। कार्यक्रम के संयोजक श्री रवि पाटोदिया ने सपरिवार अपनी जिम्मेदारी निभाई। कार्यक्रम की सफलता के लिए अपना बहुमूल्य समय देने वाले वाराणसी निवासी, श्री राम लक्ष्मी नारायण मारवाड़ी अस्पताल के कोषाध्यक्ष तथा परिषद् के राष्ट्रीय सचिव (ट्रस्ट एवं प्रोपर्टी) श्री नारायण खेमका तथा उनके सहयोगी रवि अग्रवाल की भूमिका एवं उपस्थिति महत्वपूर्ण थी। धनवन्तरी अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ॰ एस॰एस॰ तिवारी तथा अन्य कर्मचारियों का भी योगदान सराहनीय रहा।

(Niti: May., 2013)


शहडोल, महाकौशल : शाखा द्वारा 7 से 10 फरवरी तक विकलांग शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें 208 विकलांगों का पंजीकरण हुआ और 58 को कृत्रिम अंग दिए गए। समापन 10.02.2013 को प्रान्तीय अध्यक्ष शशांक श्रीवास्तव की अध्यक्षता में हुआ। सदस्यों के अतिरिक्त, एन॰एस॰एस॰ एवं शिवानी पैरा मैडिकल के छात्रों का सहयोग रहा। नगर के विभिन्न प्रतिष्ठानों ने आर्थिक सहयोग देकर उत्साह वर्धन किया।

सांचोर-जालोर, राजस्थान पश्चिम : स्थायी प्रकल्प विकलांग सहायता योजना के अन्तर्गत जनवरी माह में दानदाता जैन महिला मण्डल के आर्थिक सहयोग से कुल 21 विकलांगों को लाभान्वित किया गया। 987 रोगियों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण करके श्री मांगीलाल मेहता, मेहता ट्यूब मुम्बई के सौजन्य से निःशुल्क दवाईयाँ उपलब्ध करवाई गईं। फिजियोथेरेपी सेन्टर में 181 लोगों का इलाज किया गया। रियायती एम्बुलेंस सेवा द्वारा 4 मरीज को अस्पताल से रियायती शुल्क पर गन्तव्य पर पहुंचाया गया।

(Niti: Apr., 2013)



सांचोर-जालोर, राजस्थान पश्चिम
: स्थायी प्रकल्प विकलांग सहायता योजना द्वारा नवम्बर माह में 15 विकलांगों को लाभान्वित किया गया। विभिन्न दानदाताओं के सहयोग से संचालित फिजियोथैरेपी सेन्टर में 180 लोगों का इलाज किया गया। इस प्रकल्प में बहुत ही रियायती शुल्क पर संचालित फिजियोथैरेपी चिकित्सा पद्धति द्वारा कई गंभीर बीमारियों का निदान किया गया। रियायती एम्बूलेंस सेवा द्वारा 8 मरीजों को गन्तव्य पर पहुँचाया गया।

स्थायी प्रकल्प विकलांग सहायता योजना द्वारा दिसम्बर माह में 127 रोगियों का निःशुल्क स्वास्थ्य परिक्षण करके श्री मांगीलाल मेहता, ट्यूब मुम्बई के सौजन्य से निःशुल्क दवाईयाँ उपलब्ध करवाई गई। फिजियोथैरेपी सेन्टर में 268 लोगों का इलाज किया गया। रियायती एम्बुलेंस द्वारा 1 शव को अस्पताल से रियायती शुल्क पर गन्तव्य पर पहुँचाया गया।

‘सुभाष’ बड़ीसादड़ी, राजस्थान दक्षिण : रामनाथ बंसीलाल सोडाणी चैरिटेबल ट्रस्ट एवं विवेकानन्द शाखा के संयुक्त तत्वावधन में रामेश्वर काबरा के सहयोग से कृत्रिम अंग प्रत्यारोपण शिविर आयोजित किया गया। नगर पालिका पुस्तकालय हॉल में परिषद् सेवा न्यास के अनुभवी टेक्नीशियन राकेश शर्मा की अगुवाई में 6 विकलांगों को पैर, तीन को हाथ प्रत्यारोपित किये गये। 7 को श्रवण यंत्र, 7 को बैसाखियाँ, 2 को कैलीपर्स निःशुल्क दिये गये।

‘विवेकानन्द’ भीलवाड़ा, राजस्थान मध्य : शाहपुरा शाखा के संयुक्त तत्वावधान में स्वर्गीय श्रीमती सीता देवी काबरा की पुण्यस्मृति में आयोजित निःशुल्क कृत्रिम अंग प्रत्यारोपण शिविर के समापन पर मुख्य अतिथि प्रान्तीय उपाध्यक्ष गोविन्द प्रसाद सोडाणी रहे। अध्यक्षता (अजय इण्डिया ग्रुप) के श्री रामेश्वर काबरा ने की। विशिष्ट अतिथि उपखण्ड अधिकारी राकेश वर्मा थे। शिविर में बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, डाबला, शाहपुरा व अन्य कई ग्रामीण क्षेत्रों से आए 70 मरीज लाभान्वित हुए। 16 विकलांगों के पैर, एक को कैलीपर्स, दो को हाथ, 6 को बैसाखी, 27 को श्रवणयंत्र, 2 को हैण्ड ग्लव्श आदि वितरित किए गए। टेक्नीशियन टीम द्वारा मैनेजर राकेश के नेतृत्व में कृत्रिम अंग प्रत्यारोपित किये गये।

टोहाना, हरियाणा पश्चिम : विकलांग सहायता समिति द्वारा 4 विकलांग बंधुओं को ट्राई साईकिल और 2 विकलांग बंधुओं को बैसाखी की सुविधा दी गयी। श्री राज कुमार समाजसेवी, श्री सन्नी सच्चदेवा समाजसेवी और गुरुनानक पोलिटेक्निक कॉलेज के डायरेक्टर सरदार गुरदीप सिंह विशिष्ट अतिथि रहे। एक अन्य शिविर में मरणोपरांत नेत्रदान अभियान के अन्तर्गत स्वर्गीय प्रेम कथूरिया (35) के मरणोपरांत नेत्रदान माधव नेत्र बैंक नरवाना में प्रत्यारोपण हेतु भिजवाए गए और एक स्मृति चिह्न देकर परिवार का आभार व्यक्त किया गया। शाखा अब तक 146 नेत्रदान करवा चुकी है। एस॰डी॰एम॰ योगेश मेहता की प्रेरणा से महिला इकाई द्वारा स्थानीय दुर्गा कन्या महाविद्यालय में छात्राओं के लिए लर्निंग लाइसेंस शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें 80 छात्राओं के लाइसेंस वहीं मौके पर ही बनवाये गए। उनके लिए प्रशासन द्वारा मेडिकल जाँच एवं अन्य सुविधाएँ वहीं उपलब्ध करवाई गयी। तहसीलदार विजेन्द्र भारद्वाज मुख्य अतिथि रहे।

होडल, हरियाणा दक्षिण : 23.12.2012 को विकलांगों को कृत्रिम अंग लगाने का शिविर श्री लक्ष्मीनारायण मन्दिर में लगाया गया। मुख्य अतिथि श्री ओमप्रकाश गुप्ता थे। शिविर में प्रान्तीय अध्यक्ष मोहन लाल, प्रान्तीय महासचिव राजकुमार अग्रवाल विशिष्ट अतिथि राम किशन गोयल द्वारा सहयोग दिया गया। शिविर में 3 हाथ, 9 पैर, 22 वैशाखी, 12 सिंगल कैलीपर, 4 डबल कैलिपर, 1 सिंगल ए॰एफ॰ओ॰, 3 डबल ए॰एफ॰ओ॰, एक वॉकर विकलांगों को दिये गये।

चैरीटेबल ट्रस्ट, लुधियाना, पंजाब उत्तर : विकलांग सहायता केन्द्र द्वारा 5 निःशुल्क कृत्रिम अंग वितरण कैम्प लगाये गये, जिसमें 292 मरीजों का पंजीकरण हुआ और 311 कृत्रिम अंग लोअर/अपर लिम्ब, कैलीपर, ट्राईसाइकिल, ऊँचा सुनने की मशीन वितरित किये गये। कैम्पों के आयोजन में भिन्न-भिन्न संस्थाओं ने अपना-अपना योगदान दिया। इनमें जालन्धर, नडाला, (कपूरथला) गुरदासपुर एवं निखिल सिंगला नोबल ट्रस्ट का सहयोग विशेष रूप से उल्लेखनीय है। प्रोजेक्ट में लगभग `5,38,600/- का व्यय हुआ। हरी बस्सी पोलियो सर्जरी हस्पताल में 6 मरीजों के ऑप्रेशन किये गये। काहन चन्द अग्रवाल पोलिक्लिनिक के अन्तर्गत 2626 मरीजों का उपचार किया गया। 4 निःशुल्क कृत्रिम अंग वितरण शिविर लगाये गये जिनमें 169 मरीजों का पंजीकरण हुआ और 194 कृत्रिम अंग लोअर/अपर लिम्ब, कैलीपर, ट्राईसाइकिल, ऊँचा सुनने की मशीन वितरित किये गये। इन कैम्पों के आयोजन में भिन्न-भिन्न संस्थाओं ने अपना-अपना योगदान दिया। इनमें nsic नई दिल्ली द्वारा जालन्धर, एवं लुधियाना को दिया गया सहयोग विशेष रूप से उल्लेखनीय है। इस प्रोजेक्ट में लगभग `4,65,300/- का व्यय हुआ। हरी बस्सी पोलियो सर्जरी हस्पताल में 20 मरीजों का पंजीकरण किया गया। काहन चन्द अग्रवाल पोलिक्लिनिक के अन्तर्गत 3058 मरीजों का उपचार किया गया।

भयंदर, महाराष्ट्र (कोस्टल)-I: 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस और स्वामी विवेकानन्द जी की 150वीं जयन्ती पर जेस्सल पार्क चौपाटी से जन-जागृति रैली का आयोजन श्री महेन्द्र रुंगटा के सानिध्य में किया गया। नवघर नाका महानगरपालिका स्कूल में ध्वज सलामी के बाद सभी बच्चों को मिठाई वितरित की गयी। विकलांग विवाह योग्य युवक/युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन भी किया गया। अध्यक्ष सी॰ए॰, सी॰एस॰ श्री माणक डागा ने बताया कि कार्यक्रम में 60 विवाह योग्य युवक/युवतिओं ने भाग लिया और 4 जोड़ों की सगाई निश्चित् हुई। मुख्य अतिथि उद्योगपति सुनील पटोदिया सी॰ए॰ उपस्थित रहे। सम्मेलन में विशेष अतिथि श्री रमेश चेनपुरिया और सम्माननीय अतिथि श्री हरीश जिन्दल केन्द्रीय संगठन मंत्री उपस्थित थे। कार्यक्रम में 1 ट्राईसाइकल, 1 कम्प्यूटर और 1 व्हीलचेयर संस्था द्वारा जरूरतमंदों को प्रदान की गयी। सर्वश्री राजेश डिडवानिया, जे॰पी॰ बियाला, नरेन्द्र गुप्ता, सज्जन अग्रवाल, प्रज्ञा शर्मा का विशेष सहयोग रहा। संचालन श्रीमती प्रतिमा गोयल ने किया।

मुंबई सेन्ट्रल : अन्तर्राष्ट्रीय विकलांग दिवस को विकलांग चुनौती दिवस के रूप में मनाया गया। परिषद् द्वारा KEM Orthopedic Hospital परेल में संचालित भगवान महावीर विकलांग सेवा समिति के निःशुल्क विकलांग सेवा केन्द्र को आर्थिक सहयोग प्रदान किया गया और जरूरतमंद विकलांगों को कृत्रिम अंग प्रदान किए गए। विकलांगों के अधिकार हेतु सदैव प्रयत्नशील श्री समीर ककेरी एवं विकलांग सेवा केन्द्र के व्यवस्थापक एन॰बी॰ व्यास को अपंग मित्र सम्मान से सम्मानित किया गया। 12.12 से 20.12 2012 तक आधार कार्ड योजना का आयोजन किया गया। जिसमें 600 व्यक्तियों ने लाभ लिया।

स्वारगेट, पुणे, महाराष्ट्र-II : शाखा मगरपट्टा के साथ चैतन्य हास्य योग परिवार ने मिलकर 12.11.2012 को `155,000/-  के 1300 किलो लड्डू घरटे अनाथाश्रम तथा अन्य 35 अनाथ संस्थाओं में बांटे। प्रसिद्ध बाबा आमटे के लेपरोसी आश्रम आनन्दवन में जाकर ` 51000/- राशि दी गई। स्वामी विवेकानन्द की 150वीं जयन्ती के उपलक्ष्य में व प॰पू॰ सौभाग्य मुनीजी म॰सा॰ के अमृत महोत्सव पर मगरपट्टा महिला व युवा शाखा के प्रयत्न से 65 लोगों को जयपुर फुट केलिपर्स तथा 57 लोगों के मोतियाबिन्द का इलाज महावीर प्रतिष्ठान में किया गया। जयपुर फुट, व्हीलचेयर, केलिपर्स, सर्जिकल शूज तथा ट्राईसाइकल, 120 अंधजनों को रोलर स्टिक व चश्मों पर कुल `3 लाख खर्च किये गये।

श्री प्रवीण दोशी चीफ पेट्रन तथा पोपटलाल सिंगवी अध्यक्ष स्वारगेट शाखा, मधुसूदन देवधर जयपुर फुट केन्द्र के इन्चार्ज कोठारी को मिमेन्टो देकर सम्मानित किया गया। श्री भंवरलाल जैन द्वारा 7500 किलो अन्न का दान अपंग व अंधों के लिये काम करने वाली संस्था को दिया गया। दानदाताओं के सहयोग से प्रकल्प में ` 33 लाख राशि प्राप्त हुई।

नाशिक : सक्षम व परिषद् के सहयोग से निःशुल्क विकलांग सहायता शिविर आयोजित किया गया। 6-8 दिसम्बर को अस्थी विकलांग बंधु तथा बहनों को जयपुर फुट कैलिपर्स तथा बैसाखी प्रदान करने हेतु 111 जरूरतमंद लाभार्थियों के कृत्रिम अवयवों का नाप लिया गया। विकलांग सहायता केन्द्र पुणे के सर्वश्री मधुसूदन देवधर तथा उनके सहयोगियों ने यह कठिन काम आसान किया। अनौपचारिक उद्घाटन खुशालभाई पोद्दार ने किया। उन्होंने परिषद् के सेवा कार्यों की सराहना की। राष्ट्रीय सचिव विस्तार श्रीमती मंगला सवदीकर, प्रान्तीय अध्यक्ष उमेश राठी राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य श्री रघुनाथ विसपुते व सभी पदाधिकारी उपस्थित रहे।

हल्द्वानी, उत्तराखण्ड पूर्व : सोबन सिंह जीना बेस अस्पताल में मरीजों की सुविधा हेतु एक व्हीलचेयर 04.12.2012 को प्रदान की गई तथा एक अन्य व्हील चेयर अति विकलांग ललित दालाकोटी को प्रदान की गई। पहले भी शाखा ने विभिन्न विकलांग उपकरण प्रदान किये है। प्रान्तीय अध्यक्ष भगवान सहाय अगव्राल, प्रान्तीय सचिव दीपक अग्रवाल, शाखा अध्यक्ष डॉ॰ अतुल राजपाल आदि उपस्थित थे।

जावद, मध्य भारत पश्चिम : शाखा के तत्वावधान में स्व॰ भगवान प्रसाद सिंघानिया की स्मृति में विशाल विकलांग शिविर व हड्डी रोग निदान 19-20 व 21 जनवरी को आयोजित किया गया। विकलांग पुनर्वास केन्द्र इन्दौर की टीम द्वारा विकलांगों को कृत्रिम हाथ पैर लगवाया गये। शिविर में आए विकलांगों को करीब 27 कृत्रिम हाथ पैर व कैलिपर्स लगाए गए व 20 वैशाखी 20 हाथ, छड़ी 5 कम्बल व 5 जोड़ी जूते व 5 ट्रायसाइकिल विकलांगों को प्रदान की गई। 125 हड्डी रोगियों को निःशुल्क दवाईयाँ वितरण की गई। किडनी रोग से ग्रसित संदीप बैरागी को `4100/- राशि दिए गए। अध्यक्ष निरंजन गोयल, सचिव डॉ॰ रचना सिंहल, कोषाध्यक्ष राजेश चाण्डक, प्रान्तीय पदाधिकारी प्रदीप चोपड़ा, दिलीप राठी भी उपस्थित थे। दिल्ली गैंग रेप की शिकार दामिनी की मौत पर कैन्डल मार्च निकाल कर दोषियों को सजा देने की मांग की गई। विवेकानन्द जयन्ती पर विशाल शोभा यात्रा निकाली गई।

बोकारो स्टील सिटी (उत्तर एवं दक्षिण) झारखण्ड : प्रान्त की दोनों शाखाओं के संयुक्त तत्वावधान में 23 दिसम्बर को एक विकलांग सहायता शिविर लगाया गया। विकलांगों को कृत्रिम अंग प्रदान करने की प्रारम्भिक प्रक्रिया पूरी की गई। मुख्य संयोजक श्री श्याम मोहन तथा उनकी टीम के सदस्यों के अतिरिक्त परिषद् की दोनों शाखाओं के कार्यकारिणी सदस्यों एवं अन्य सदस्यों ने इस शिविर की सफलता में बढ़-चढ़ कर सहयोग दिया।

बुढ़ाना मुजफ़्फरनगर, हस्तिनापुर : 16 दिसम्बर को वरदान सेवा संस्थान के सहयोग से आयोजित निःशुल्क नेत्र चिकित्सा शिविर में 275 मरीजों को आँखों की जाँच करके दवाई वितरित की गई। 56 मरीजों का मोतियाबिन्द का ऑप्रेशन किया गया। विकलांग सहायता उपकरण वितरण समारोह का आयोजन कल्याण करोति मेरठ एवं पं॰ दीनदयाल उपाध्यक्ष विकलांग जन संस्थान नई दिल्ली के सहयोग से सरस्वती शिशु मन्दिर में किया गया। 215 ट्राईसाईकिल, 29 व्हीलचेयर, 80 जोड़ी बैसाखी, 12 कैलीपर्स, 9 छड़ी, 33 श्रवणयन्त्र वितरित किये गये। कार्यक्रम का उद्घाटन श्री सुरेन्द्र सिंह जिलाधिकारी मु॰ नगर ने किया एवं अध्यक्षता श्री एस॰के॰ वधवा राष्ट्रीय महामंत्री ने की। मुख्य अतिथि डॉ॰ धर्मेन्द्र कुमार डायरेक्टर विकलांग जनसंस्थान नई दिल्ली के रहे। डॉ॰ वी॰के॰ जौहरी मुख्य चिकित्साधिकारी भी उपस्थित थे। श्री जितेन्द्र त्यागी चेयरमैन नगर पंचायत, श्री रविन्द्र गोडबोने सी॰डी॰ओ॰ के अतिरिक्त प्रान्तीय पदाधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

बड़ौत : 18.01.2013 को तीसरा निःशुल्क विकलांग शिविर पुष्पदन्त कोल्ड स्टोरेज़ में आयोजित किया गया, जिसमें राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्री हरीश जिन्दल मुख्य अतिथि रहे। उनके सान्निध्य में विकलांग व्यक्तियों को 25 ट्राईसाइकिल, 47 जयपुरी कृत्रिम अंग, 40 वॉकर, 45 कैलीपर्स, 30 बैसाखी एवं 15 छड़ी निःशुल्क वितरित की गईं। संस्थापक श्री पंकज जैन के परिवार का विशेष सहयोग रहा। अध्यक्ष श्री सतप्रकाश गौड़ महासचिव नरेश गोयल एवं कोषाध्यक्ष बी॰डी॰ शर्मा विशेष रूप से पधारे।

पटना सिटी, दक्षिण बिहार : भाविप विकलांग अस्पताल में 4 जनवरी 2013 को पहाड़ी पर 17 मरीज़ों की निःशुल्क पोलियो सर्जरी तथा 40 मरीजों का परीक्षण सुप्रसिद्ध हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ॰ एस॰एस॰ झा के नेतृत्व में किया गया। बड़ी संख्या में बिहार काउंसिल ऑफ वुमेन की सदस्याएँ उपस्थित थीं। विकलांग विद्यार्थी श्याम कुमार को श्रीमती रेणु सहाय द्वारा तिपहिया साईकिल भी प्रदान की गयी।

Niti: Mar., 2013)

सुनाम मेन, पंजाब पूर्व : भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति जयपुर, लाला दुर्गा दास चैरिटेबल आर्टिफिशियल लिम्ब सैन्टर अम्बाला के सहयोग से बनावटी अंगों का निःशुल्क कैम्प अग्रवाल धर्मशाला में लगाया गया, जिसका उद्घाटन ए॰डी॰सी॰ इन्दु मल्होत्रा ने किया। 200 व्यक्तियों का डॉ॰ आर॰एन॰ हांडा की टीम ने माप लिया तथा उन्हें इसके इस्तेमाल करने का ढंग भी बताया। कृत्रिम अंगों के निःशुल्क वितरण समारोह में 70 व्यक्तियों को कृत्रिम अंग, बूट, कैलीपर वितरित किए गए। विकलांग सहायता के अन्तर्गत 5 विकलांग व्यक्तियों को निःशुल्क ट्राई साईकिल दिए गए। विशेष सहायता के लिए चेयरपर्सन श्रीमती शैलेन्द्र कौर की ओर से हार्दिक आभार प्रकट किया गया।

चैरिटेबल ट्रस्ट, लुधियाना, पंजाब उत्तर : विकलांग सहायता केन्द्र द्वारा 4 निःशुल्क कृत्रिम अंग वितरण कैम्प लगाये गये। 163 मरीजों का पंजीकरण हुआ और 168 कृत्रिम अंग, लोअर/अपर लिम्ब, कैलीपर, ट्राईसाइकिल, ऊँचा सुनने की मशीन वितरित किये गये। हरी बस्सी पोलियो सर्जरी अस्पताल में एक कैम्प लगाया गया जिसमें 7 मरीजों के 12 ऑप्रेशन किये गये। काहन चन्द्र पोलिक्लिनिक के अन्तर्गत 3680 मरीजों का उपचार किया गया।

रावतभाटा, राजस्थान दक्षिण पूर्व : 2 अक्टूबर को गाँधी जयन्ती पर पुराने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में विकलांग केन्द्र, कोटा एवं नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर के संयुक्त तत्वावधान में विकलांगों की निःशुल्क पोलियो जाँच, ऑप्रेशन के लिए चयन एवं कृत्रिम अंग प्रत्यारोपण शिविर का आयोजन किया गया। उद्घाटन श्री आर॰ डी॰ पटेल, महाप्रबंधक, पानी संयंत्र कोटा अणुशक्ति द्वारा किया गया। प्रान्तीय महासचिव दीपक गुप्ता एवं शाखा अध्यक्ष डी॰सी॰ शर्मा, शिविर प्रभारी शंभुदयाल उपस्थित थे। शिविर में डॉक्टरों की टीम द्वारा 27 रोगियों का चैकअप किया गया, जिसमें से 9 रोगियों का उदयपुर में ऑप्रेशन हेतु चयन किया गया तथा परिषद् एवं विकलांग केन्द्र कोटा के सहयोग से 15 रोगियों को कैलिपर व बैसाखी का वितरण किया गया। ऑप्रेशन का समस्त व्यय शाखा द्वारा वहन किया गया।

सांचोर-जालोर, राजस्थान पश्चिम : स्थायी प्रकल्प विकलांग सहयता योजना द्वारा 20 विकलांगों को लाभान्वित किया गया। 920 रोगियों का स्वास्थ्य परिक्षण करके श्री मांगीलाल मेहता, मेहता ट्यूब मुम्बई के सौजन्य से निःशुल्क दवाईयाँ उपलब्ध करवाई गई। फिजियोथैरेपी सेन्टर में 329 लोगों को फिजियोथैरेपी चिकित्सा पद्धति द्वारा कई गम्भीर बीमारियों का निदान किया गया।

टोहाना, हरियाणा पश्चिम : विकलांग सहायता समिति के माध्यम से एक विकलांग बंधु को ट्राई साईकिल और एक को बैशाखी की सहायता प्रदान की गयी। गुरुनानक पोलिटैक्निक कॉलेज के डायरेक्टर सरदार गुरदीप सिंह विशिष्ट अतिथि थे। स्वर्गीय श्री प्रेम कथूरिया (35) के मरणोपरान्त नेत्रदान करवाए गए। नेत्रदान प्रकल्प के सदस्यों सर्वश्री देव सिंगला, जगमोहन अरोड़ा, कुमार संजय और कुश भार्गव ने मृतक के नेत्र सुरक्षित निकाल कर माधव नेत्र बैंक नरवाना में प्रत्यारोपण हेतु भिजवाए और एक स्मृति चिह्न देकर परिवार का आभार प्रकट किया। शाखा अब तक 146 नेत्रदान करवा चुकी है।

(Niti: Jan., 2013)


चैरिटेबल ट्रस्ट लुधियाना, पंजाब उत्तर : विकलांग सहायता केन्द्र द्वारा 6 कृत्रिम अंग वितरण कैम्प लगाये गये, जिसमें 221 मरीजों का पंजीकरण हुआ और 225 कृत्रिम अंग लोअर/अपर लिम्ब, कैलीपर, ट्राईसाइकिल, ऊँचा सुनने की मशीन वितरित किये गये। शिविरों के आयोजन में विभिन्न संस्थाओं ने अपना-अपना योगदान दिया। इनमें विवेकानन्द शाखा, गुरदासपुर, मोगा, जालन्धर एवं लाज विश्वकर्मा सोसाईटी का सहयोग विशेष रूप से उल्लेखनीय है। इस प्रोजेक्ट में लगभग `3,57,500/- का व्यय हुआ। हरी बस्सी पोलियो सर्जरी हस्पताल में दो कैम्प लगाये गये जिनमें 17 मरीजों का पंजीकरण हुआ और कुल 39 ऑप्रेशन किये गये। काहन चन्द अग्रवाल पोलिक्लिनिक के अन्तर्गत 3324 मरीजों का उपचार किया गया। पोलिक्लिनिक में हौम्योपैथी, आयुर्वैदिक, स्त्री रोग, आम बीमारियों, हड्डियों की बीमारी, फिजियोथैरपी एक्युप्रेशर/एक्युपंकचर, लैब टेस्ट आदि की सुविधायें उपलब्ध है।

हिसार, हरियाणा पश्चिम : ‘विकलांग व्यक्ति शारीरिक रूप से चाहे विकलांग हो, यदि वह मानसिक रूप से होंसले वाला है तो उसकी उन्नति में विकलांगता आड़े नहीं आती।’ ये विचार फतेहचंद महिला महाविद्यालय की प्राचार्या रचना शर्मा ने परिषद् द्वारा संचालित विकलांग पुनर्वास केन्द्र में सामाजिक विकास कार्यक्रम के तहत कृत्रिम अंग एवं ट्राईसाईकिल वितरण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोलते हुए व्यक्त किए। कार्यकारी अध्यक्ष सुरेन्द्र कुच्छल ने बताया कि कार्यक्रम में ‘उज्जीवन’ ने महत्वपूर्ण सहयोग दिया है। विदित रहे उज्जीवन देश की वह संस्था है जो सिर्फ महिलाओं के उत्थान के लिए कटिबद्ध है। आयोजन में चार विकलांग लोगों को उज्जीवन की ओर से ट्रासाईकिलें भेंट की गई। मंच संचालक राष्ट्रीय विकलांग सहायता प्रकल्प के कन्वीनर सुरेन्द्र लाहौरिया ने उज्जीवन संस्था का धन्यवाद किया। ट्राईसाईकिल के अलावा छः लोगों को कृत्रिम अंग भी प्रदान किए गए। कार्यक्रम में मनीष जैन, उज्जीवन हिसार के कार्यक्रम मैनेजर महेश कुमार व शांता कुमार के अतिरिक्त अनेक महिलाएँ भी उपस्थित थीं।

टोहाना : राष्ट्रीय स्थापना दिवस 10 जुलाई को संचालित विकलांग सहायता समिति की ओर से राजकीय कन्या विद्यालय की एक विकलांग छात्रा को ट्राई साईकिल सहायतार्थ दी गयी। शहर के समाजसेवी डा॰ हरदयाल भाटिया और विद्यालय के मुख्याध्यापक श्री हरी स्वरूप शास्त्री भी उपस्थित थे।

सांचोर-जालोर, राजस्थान पश्चिम : दानदाता श्री प्रकाशमल सी कानूनगो, प्रकाश स्टीलेज मुम्बई के सहयोग से संचालित किये जा रहे फिजियोथैरेपी सेन्टर द्वारा 83 लोग लाभान्वित हुए। विकलांग बन्धुओं की सहायतार्थ संचालित विकलांग सहायता केन्द्र द्वारा गत माह में दानदाता सुरेश बोकाड़िया, स्टील एड्स एन्टरप्राईजेज प्रा॰लि॰ मुम्बई के आर्थिक सहयोग से 14 विकलांग लोगों को कृत्रिम हाथ, पैर, पोलियो कैलिपर्स, ऑर्थोशूज, बैशाखी व स्टीक प्रदान की गई तथा 10 कृत्रिम अंगों को रिपेयर किया गया। प्राथमिक चिकित्सालय के माध्यम से मौसमी बीमारियों से पीड़ित 394 रोगियों का स्वास्थ्य परीक्षण करके श्री मांगीलाल मेहता ट्यूब मुम्बई के सौजन्य से निःशुल्क दवाईयाँ उपलब्ध करवाई गई। एम्बुलेंस सेवा द्वारा 2 मरीजों को रियायती शुल्क पर गन्तव्य पर पहुँचाया गया।

गुलाबपुरा, भीलवाड़ा, राजस्थान मध्य : शाखा द्वारा विकलांगों की सहायतार्थ 9 से 11 अगस्त तक आयोजित निःशुल्क कृत्रिम अंग प्रत्यारोपण शिविर का शुभारम्भ हुरड़ा रोड पर महालक्ष्मी समारोह स्थल पर प्रान्तीय अध्यक्ष सत्यप्रकाश काबरा, महासचिव मुकनसिंह राठौड़, कोषाध्यक्ष दिनेश कोगटा, महिला प्रमुख पूरणा पारीक, जिलाध्यक्ष कैलाश अजमेरा, गु॰व॰छा॰अ॰ के प्रान्तीय प्रभारी सत्यनारायण अग्रवाल ने किया। सेवान्यास, इन्दौर की टेक्नीशियन अनुभवी टीम द्वारा 22 निःशक्तजनों का पंजीकरण किया गया है जिसमें 4 निःशक्तजनों के पैर व एक के हाथ का नाप लिया गया, बाकी रोगियों को बैसाखियां व जूते वितरित किये गये।

गया, मगध बिहार : परिषद् के तत्वावधान में चल रहे महिला विकास संस्थान की ग्रामीण शाखा वायरलेस व्यावसायिक शिक्षा केन्द्र का प्रथम स्थापना दिवस 17.07.2012 को मनाया गया। समारोह की अध्यक्षता प्रो॰ वी॰पी॰ वर्मा ने की। संस्थान की मुख्य संचालिका एवं संस्थापिका श्रीमती सुमन सिंह ने बताया कि ग्रामीण महिलाओं के स्वावलंबन एवं महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से महिला विकास संस्थान का गठन किया गया था तथा 17.07.2012 को वायरलेस ग्राम नामक शाखा की नींव रखी गई थी। एक वर्ष के दौरान 20 लड़कियों के एक बैच को व्यावसायिक कोर्स पूरा कर ट्रेड प्रमाण पत्र से नवाजा जा चुका है। प्रशिक्षित लड़कियों ने अपने-अपने गाँवों में स्वावलवंन का रास्ता खोज निकाला है। ग्राम विकास समिति के अध्यक्ष डॉ॰ डी॰के॰ भास्कर के सहयोग से यह संस्थान चल रहे है। संस्थान के दो सिलाई केन्द्र चल रहें हैं जिसमें एक ग्राम वायरलेस में तथा दूसरा ग्राम रेहुआ में चल रहा है। प्रान्तीय अध्यक्ष जय राम सिंह, महासचिव श्री परमेश्वर सिंह तथा संरक्षक श्री उदय कुमार वर्मा ने परिषद् के बारे में विचार व्यक्त किये तथा मुख्य संचालिका को ग्रामीण लड़कियों को शिक्षित करने के लिए धन्यवाद दिया। समारोह के अन्त में इस संस्थान की पूर्व विकलांग छात्रा इन्दु कुमारी को श्रीमती सुमन सिंह, श्री दिनेश प्रसाद सिंह, डॉ॰ डी॰के॰ भास्कर तथा प्रान्त के उपस्थित सभी पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से तीन पहिया साईकिल प्रदान की।

साहिबाबाद विराट, पश्चिमी उत्तर प्रदेश : फातिमा, निवासी खानपुर, शिला बुलन्दशहर, की घर की छत गिरने पर रीढ़ की हड्डी टूट गईं। शाखा की डिस्पैंसरी में लगभग 8 माह के इलाज के पश्चात् इनके लिये फुल लैग कैलीपर्स श्री सत्य प्रकाश वार्ष्णेय ने प्रदान किये। घुटनों की कैलीपर्स श्री सुदेश कौल वरिष्ठ उपाध्यक्ष ने दिये तथा श्री संजय कुमार श्रीवास्तव ने विशेष औषधियों हेतु ` 5100/- दिये। श्री बलदेव राज शर्मा, जो 3 वर्षों से अधिक से कौमा में रहे उन्हें 26.07.2012 को व्हील चेयर सौंप दी गईं। इसके लिए ` 5100/- श्री ओम प्रकाश त्यागी (राजेन्द्र नगर) ने सहयोग राशि दी।

(Niti: Nov., 2012)


चैरिटेबल ट्रस्ट, लुधियाना, पंजाब उत्तर : अप्रैल से जून में विकलांग सहायता केन्द्र द्वारा 16 फ्री कृत्रिम अंग वितरण कैम्प लगाये गये, जिसें 768 मरीजों का पंजीकरण हुआ और 799 कृत्रिम अंग लोअर/अपर लिम्ब, कैलीपर, ट्राइसाइकिल, ऊँचा सुनने की मशीन वितरित किये गये। इन कैम्पों के आयोजन में विभिन्न संस्थाओं ने अपना-अपना योगदान दिया। शिवाजी, सरहिन्द, विश्व जागृति मिशन, जालंधर शाखा, भगवान महावीर सेवा संस्थान गुरदासपुर, एन॰जी॰एम॰ सोशल वर्क क्लब खन्ना का सहयोग विशेष रूप से उल्लेखनीय है। इस प्रौजेक्ट में लगभग `1,49,500/- का व्यय हुआ। प्रथम त्रैमासिक अवधि में हरी बस्सी पोलियो सरजरी हस्पताल में चार कैम्प लगाये गये जिनमें 56 मरीजों का पंजीकरण हुआ और कुल 84 ऑप्रेशन किये गये। काहन चन्द अग्रवाल पोलिक्लिनिक के अन्तर्गत 10,682 मरीज़ों का उपचार किया गया। इस पोलिक्लिनिक में होम्योपैथी, आयुर्वैदिक, स्त्री रोग, आम बीमारियाँ, हड्डियों की बीमारी, फिजियोथेरपी एक्युप्रैशर/एक्युपंकचर लैब टेस्ट आदि की सुविधायें उपलब्ध हैं।

दीसा, गुजरात उत्तर : शाखा के पद ग्रहण समारोह के अंतर्गत एक अपंग बहन को ट्राइसाइकिल भेंट कर विकलांग सहायता प्रकल्प के सेवा कार्य का श्रीगणेश किया गया। इस मौके पर हंसमुख भाई मोदी शिक्षाविद, डॉ॰ नवीन भाई शाह, पर्यावरणविद, डॉ॰ अजय भाई जोशी उपाध्यक्ष, डॉ॰ मनोज भाई अमीन व अन्य शाखाओं से पधारे मेहमान और शाखा परिवार के करीब 400 से ज्यादा लोगों को उपस्थित रह कर परिषद् की गतिविधि से अवगत कराया गया। ट्राइसाइकिल के दाता स्व॰ मनीष भाई के भाई राजेन्द्र सुरेशचन्द्र ठक्कर एवं इनके परिवारजनों ने सबका आभार व्यक्त किया।

टोहाना, हरियाणा पश्चिम : राष्ट्रीय संस्थापक डॉ॰ सूरज प्रकाश की जयन्ती 27 जनू पर परिषद् द्वारा संचालित विकलांग सहायता समिति कार्यालय में एक विकलांग सहायता शिविर का अयोजन किया गया। शिविर में विकलांग बंधुओं को ट्राई साइकिल एवं व्हील चेयर प्रदान की गयी। डॉ॰ राजेश कक्कड़ समारोह के मुख्यातिथि रहे, जिन्होंने परिषद् के इस मानवीय कार्य से प्रभावित होकर ` 11000/- की सहयोग राशि दी। इस अवसर पर सदस्यो के साथ-साथ शहर के अनेक समाजसेवी भी उपस्थित थे।

कृष्ण, लखनऊ, अवध प्रदेश : सेवा सूत्र के अन्तर्गत शाखा सदस्यो के सहयोग से एक व्हील चेयर लोक बन्धु राज नारायण संयुक्त चिकित्सालय एल॰ डी॰ ए॰ कॉलोनी में उपलब्ध कराई गई। प्रान्तीय संगठन मंत्री एस॰ एन त्रिपाठी एवं मानसरोवर शाखा के विभिन्न पदाधिकारी एवं शाखा सदस्य उपस्थित रहे।

(Niti; Sep.,2012)
 

सेवा न्यास, इन्दौर, मध्य भारत पश्चिम : शाखा द्वारा संचालित विकलांग सहायता केन्द्र, 19 रूपराम नगर द्वारा सतना में विशाल विकलांग सहायता शिविर का आयोजन 8 से 13 अप्रैल तक किया गया। शिविर में 1000 कृत्रिम हाथ, पाँव, पोलियो केलिपर लगाने का लक्ष्य रखा गया। बिना किसी सरकारी अनुदान के समाज के सहयोग से आयोजित इस शिविर हेतु परिषद् के चलित सेवा वाहन को सदस्यों ने रवानगी दी। अध्यक्ष प्रथमेश देसाई व सचिव डा॰ संजय लोढ़े ने बताया कि चलित वाहन में 1000 कृत्रिम अंग बनाने का सम्पूर्ण वर्कशाप स्थापित है। वाहन चार दिन सतना रहकर, राकेश प्रजापत व रामप्रसाद परमार की टीम के साथ सेवाएं देगा। पूर्व में भी शहडोल, रायपुर, करोबा, कानपुर, भिलाई, बेल्लारी (कर्नाटक), नासिक जैसे दूरस्थ स्थान पर शिविर लगाये जा चुके हैं। रूपराम नगर स्थित केन्द्र से आज तक 7000 कृत्रिम अंग लग चुके हैं।

कृष्ण, लखनऊ, अवध प्रदेश : स्वामी विवेकानन्द जी की 150वीं जयन्ती सेवा सुत्र के अन्तर्गत शाखा सदस्यों के सहयोग से एक व्हील चेयर लोक बन्धु राज नारायण संयुक्त चिकित्सालय एल॰डी॰ए॰ कालोनी लखनऊ में उपलब्ध कराई गई। प्रान्तीय संगठन मंत्री एस॰एन॰ त्रिपाठी एवं मानसरोवर शाखा के विभिन्न पदाधिकारी एवं शाखा के प्रमुख सदस्य उपस्थित रहे। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा॰ सुरेश चन्द्र ने इस कार्य हेतु अत्यन्त प्रसन्नता व्यक्त की एवं भविष्य में भी ऐसे सहयोग की अपेक्षा की।

सतना, महाकौशल : शाखा द्वारा 12वें विकलांग शिविर का आयोजन 8 से 11 अप्रैल, 2012 तक बिरला रोड स्थित रामसहाय बड़ेरिया चेरिटेबल ट्रस्ट भवन में किया गया। शिविर संयोजक घनश्याम सोनी ने बताया कि इन्दौर से आये हुये टेक्निशियन अरुण मालवीय, राकेश प्रजापति, राकेश परमार द्वारा कृत्रिम पैर एवं कैलीपर्स लगाये गये। शिविर में 77 हितग्राही लाभान्वित हुये। जिला पंचायत, कलेक्टर, विकलांग पुर्नवास केन्द्र द्वारा भरपूर प्रशासनिक सहयोग प्राप्त हुआ। समापन समारोह में पूर्व प्रान्ताध्यक्ष बी॰पी॰ सूरी, क्षेत्रीय संगठन मंत्री ललित माहेश्वरी, प्रान्तीय सचिव अभिषेक जैन विशेष रूप से उपस्थित हुये। अध्यक्ष श्रीमती बेला मित्तल एवं सचिव राहुल जैन ने सभी का आभार व्यक्त किया।

चैरिटेबल ट्रस्ट, लुधियाना, पंजाब उत्तर : शाखा द्वारा जनवरी-मार्च 2012 में अनेक कार्य किये गये। विकलांग सहायता केन्द्र द्वारा 7 फ्री कृत्रिम अंग वितरण कैम्प लगाये गये, जिसमें 458 मरीजों का पंजीकरण हुआ और 459 कृत्रिम अंग वितरित किये गये। इन कैम्पों के आयोजन में भिन्न-भिन्न संस्थाओं, शाखा एवं सुखदेव शाखा, महाराजा अग्रसेन सेवा संघ, प्रवासी एकम चैरिटी ट्रस्ट तथा पंजाब नेशनल बैंक आदि का सहयोग विशेष रूप से उल्लेखनीय है। इस प्रोजेक्ट में लगभग ` 6,97,500 का व्यय हुआ। प्रथम त्रैमासिक अवधि जनवरी-मार्च में हरी बस्ती पोलियो सर्जरी हस्पताल में चार कैम्प लगाये गये, जिसमें 29 मरीजों का पंजीकरण हुआ और कुल 50 आप्रेशन किये गये। तदुपरान्त इन मरीजों को फिजियोथेरेपी इलाज तथा कृत्रिम अंग भी प्रदान किये गये। चन्द्र अग्रवाल पोलिक्लिनिक के अन्तर्गत 10,050 मरीजों का उपचार किया गया। पोलिक्लिनिक में होमियोपैथी, आयुर्वैदिक, स्त्री रोग, फिजियोथेरेपी एक्यूप्रैशर/एक्यूपंचर, लैब टेस्ट आदि की सुविधायें उपलब्ध हैं।

सांचोर-जालोर, राजस्थान पश्चिम : स्थायी प्रकल्प विकलांग सहायता योजना द्वारा मार्च माह में 23 विकलांगों को लाभान्वित किया गया। दानदाता सुरेश पुखराज बोकड़िया के आर्थिक सहयोग से 5 कृत्रिम पैर, 3 कैलीपर्स, 5 बैशाखी व स्टिक 2 वितरित की गईं। साथ ही 11 अंगों की मरम्मत भी की गई। प्राथमिक चिकित्सा इकाई के माध्यम से 355 रोगियों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण करके मांगीलाल मेहता, मेहता ट्यूब मुम्बई के सौजन्य से निःशुल्क दवाईयाँ उपलब्ध करवाई गईं। नूतन प्रकल्प फिजियोथेरेपी सेन्टर में 176 लोगों का इलाज किया गया। विभिन्न दानदाताओं के सहयोग से संचालित इस प्रकल्प में बहुत ही रियायती शुल्क पर फिजीयोथेरेपी चिकित्सा पद्धति द्वारा कई गंभीर बीमारियों का निदान किया गया। रियायती एम्बुलेंस सेवा द्वारा 5 मरीजों को अस्पताल एवं 1 शव को रियायती शुल्क पर गन्तव्य तक पहुँचाया गया।

नगरोटा बागवां (कांगड़ा), हिमाचल प्रदेश : विकलांग पुनर्वास संस्थान लिदवड़ मेले के उपलक्ष्य में विकलांग सहायता कैम्प लगाया गया। इसमें पाँच विकलांगों को कृत्रिम अंग प्रदान किये गए। मुख्यातिथि उपमण्लाधिकारी कांगड़ा विनय सिंह ठाकुर ने जरूरतमंद व्यक्तियों को कृत्रिम अंग प्रदान किए। संस्थान के प्रधान रमेश पुरोहित ने वार्षिक रिपोर्ट के माध्यम से बताया कि संस्था अब तक 4848 अपंग व्यक्तियों को कृत्रिम अंग प्रदान कर चुकी है। समाज सेवी कुशला सूद ने संस्थान को ` 11 हजार प्रदान किए। प्रोजेक्ट प्रबंधक रामचंद मेहता ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिह्न भेंट करके सम्मानित किया। कार्यक्रम में कुमुद मेहता, कीमती लाल नागपाल, घनश्याम वर्मा व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

(Niti; Jun.,2012)


Next>>
 

 

                                                                                                                                         top         Home 

 

Copyright©  Bharat Vikas Parishad . All Rights Reserved